अभिकार्या देगा छोटे और बड़े गुमनाम हस्तशिल्प निर्माताओं को ऑनलाइन डिजिटल उड़ान: पंकज चौधरी

पंकज चौधरी नाम का एक युवा सर्वश्रेष्ठ कारीगरो के तलाश मे भारत के ग्रामीण और बाहरी क्षेत्रों मे यात्रा करते है ताकि अभिकार्या द्वारा वो मंच प्राप्त कर सके और ग्रामीण भारत को रोज़गार प्रदान कर सके, ग्राहक आधार को देखते हुए सभी उत्पाद को ऑनलाइन पोर्टल पे बेचा जाता है ,स्टोर अभिकार्यालेन नाम के तहत ,आमज़ॉन फ्लिपकार्ट,पेटीएम,वालमार्ट,ओवरस्टॉक आदि भारत और विदेशो मे बेचा जाता है। अभिकार्या उन लोगों के लिए बना है जो अपना काम तो शुरू करना चाहते हैं, लेकिन ज्ञान और समय के अभाव में कोई जगह नहीं ले पाते हैं।
पंकज चौधरी मूल रूप से गोरखपुर के निवासी है ,उन्होने ने इंजिनियरिंग की पढ़ाई करने के बाद चार साल से ज़्यादा समय अपना ई-कॉमर्स कंपनी को दिया है उसके बाद उन्होने ने अपना खुद का कंपनी खोलने का सोचा जो आज पीएम मोदी के डिजिटल इंडिया ख्वाब को अपना बनाकर जीते हुए औरों की जिंदगी संवारने में जुटे हैं । अपने कंपनी अभिकार्या टेक्नॉलजीस प्राइवेट लिमिटेड (www.abhicarya.com)के ज़रिए भारत के छोटे और बड़े व्यापारियों को कामयाबी का नया आसमान दे रहे हैं ।